PeepingMoon Exclusive: 'मैं जल्द ही ओटीटी पर डेब्यू करूंगा, एक प्रोजेक्ट लगभग फाइनल हो गया है': लव सिन्हा

By  
on  

फिल्म इंडस्ट्री की बात हो या फिर भारतीय राजनीति की, दोनों में ही माहिर दिग्गज कलाकार शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा किसी परिचय के लिए मोहताज नहीं है. लव एक ऐसे परिवार से आते हैं जो अपनी संस्कृति और शिष्टाचार के लिए जाना जाता है. पलटन फेम एक्टर लव इन दिनो अपने आर्ट वेंचर 'हाउस ऑफ क्रिएटिविटी' को लेकर चर्चाओं में है. लव ने अपने भाई कुश और बहन सोनाक्षी सिन्हा के साथ मिलकर ये अनोखी पहल की है. एचओसी एक अनूठा ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है, जो भारत और विदेशों में उभरते इंडियन आर्टिस्ट को बढ़ावा देगा. वहीं हाल ही में लव ने पीपिंगमून के साथ खास बातचीत की है. इस दौरान लव ने अपने प्लेटफॉर्म से लेकर अपने ओटीटी डेब्यू को लेकर बातचीत की. वहीं इसी दौरान लव ने बताया की वे अपनी बहन सोनाक्षी की अपकमिंग फिल्म 'भुज द प्राइड ऑफ इंडिया' को लेकर बहुत एक्साइटेड है. 

सवाल-  आपने, कुश और सोनाक्षी सिन्हा ने मिलकर 'हाउस ऑफ क्रिएटिविटी' लॉन्च किया है . जिसमें ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिए भारत और विदेशों में उभरते इंडियन आर्टिस्ट को बढ़ावा दिया जाएगा. इस प्लेटफॉर्म के जरिए आप कैसे काम कर रहे है. 
जवाब- जब हम यह प्लेटफार्म शुरू करने की प्लानिंग कर रहे थे तब हमने यह सोचा था कि, इसके जरिए हम उन कलाकार की पूरी मदद करेंगे जो डिजर्विंग हो लेकिन दुनिया उनको ज्यादा ना जानती है, यह प्लेटफॉर्म सिर्फ हमारे लिए नहीं बल्कि उन हर आर्टिस्ट के लिए है जो कला को समझता है. हमारा मकसद यही रहता है कि जो इस कला की कद्र करते हैं उन तक यह कला पहुंच पाए. पर्दे के पीछे एक्सपर्ट्स की टीम और दुनियाभर के उभरते कलाकारों के सेलेक्शन के साथ, हाउस ऑफ क्रिएटिविटी कई कारणों से इस तरह की पहली पहल है. एचओसी नए आर्ट कलेक्टर्स को सलाह देगा और समृद्ध करेगा, और इन सबसे अलग, सभी के लिए ऑनलाइन आर्ट कलेक्शन प्रदर्शित करेगा.

PeepingMoon Exclusive: 'बचपन से ही मेरी लाइफ काफी चैलेंजिंग रही है, तो स्ट्रगल वाले फेज को हैंडल करने में डर नहीं लगा': 'साथ निभाना साथिया 2' फेम संकेत चौकसे

सवाल- आर्टिस्ट कैसे इस प्लेटफॉर्म से जुड़ सकते हैं 
जवाब- सबसे पहले तो हम खुद इसकी जांच करते हैं हमारे पास इन हाउस ऐसे लोग हैं जो ऐसे कलाकारों को ढूंढते हैं जिनको हमारी जरूरत है. इसके अलावा कई बार कई लोगों की बातों से पता चलता है कि यह बहुत योग्य है काबिल है, फिर हम इन कलाकारों से खुद कांटेक्ट करते हैं मेल के थ्रू बात करते हैं. इस के अलावा हमारी साइट पर एक ऑप्शन आता है ' ज्वाइन अस' इसके जरिए भी लोग हमसे जुड़ सकते हैं, अपना काम हमें भेज सकते हैं और हम से कांटेक्ट कर सकते हैं. जो कलाकार हमें अपना काम भी होते हैं वह काम मुझे और हमारी पूरी टीम को पसंद आता है तो हम उसे प्लेटफार्म पर लगाते हैं. वैसे सच कहूं तो हमारा मकसद सिर्फ काम का 'पसंद' आना नहीं बल्कि उससे हमें फील आना चाहिए, वो काम दिल को छूना चाहिए. 


सवाल- किस बात से इंस्पायर्ड होकर आपके 'हाउस ऑफ क्रिएटिविटी' को लॉन्च किया ?
जवाब- मैं किसी से प्रेरित तो नहीं हूं पर हां मैं इतना कहूंगा मेरे मन में हमेशा यह विचार आता था कि हम तीनो भाई बहन, मैं, खुश और सोनाक्षी तीनों बहुत क्रिएटिव इंसान है. रचनात्मकता कि और हमारा बहुत झुकाव है. सिर्फ एक्टर या डायरेक्टर ही नहीं बल्कि इसके अलावा भी हम तीनों की एक दूसरी साइड है.हम से जुड़े लोग हमारा यह दूसरा रूप जानते हैं. तो बस इन्हीं सब चीजों को सोच कर मेरे मन में यह विचार आया था कि क्यों ना मैं एक ऐसा प्लेटफार्म क्रिएट करूं जो सिर्फ मेरा ही नहीं बल्कि उन हर लोगों का काम दिखाएं, जिन जिन को इसकी इसकी जरूरत है. हाउस ऑफ क्रिएटिविटी की लॉन्चिंग तक मैंने इस प्लेटफार्म के साथ लंबा सफर तय किया है यह सिर्फ दो या 6 महीनों की सोच नहीं बल्कि कई सालों की सोच है. 3 साल पहले मैंने हाउस ऑफ क्रिएटिविटी के बारे में सोचा था फिर कई चीजों पर काम किया जा रहा था, फिर धीरे-धीरे कर यह प्लेटफॉर्म तैयार हुआ.

सवाल- आपको किस क्रिएटिविटी से सबसे ज्यादा प्यार है ?
जवाब- मुझे वीडियो शूटिंग, फोटोग्राफी बहुत बहुत पसंद आती है. मैं फोटोग्राफी को चैलेंज मानता हूं. क्योंकि आजकल सब के पास स्मार्टफोन है सब फोटोग्राफी करते हैं, फोटोग्राफर की कमी नहीं है लेकिन आप सबके बीच अपना काम कैसे अलग दिखा सकते हैं सही मायनों में वह फोटोग्राफी है. मेरा मकसद यह है कि मैं अपनी फोटोग्राफी में लोगों को कुछ अलग दिखाओ, लोग उस फोटो से कनेक्ट हो उसको फील करें. 

सवाल- अपने पिता की वजह से आप शुरू से आप एक्टिंग और पॉविटिक्स से वाकिफ है . लेकिन शुरू से आपता झुकाव किस ओर ज्यादा था.
जवाब-  मै एक्टिंग और पॉलिटिक्स दोनों को अलग तरीके से देखता हूं. एक्टिंग मेरा काम है और मुझे एक्टिंग से कितना प्यार है वह मैं शब्दों में बयां ही नहीं कर सकता, और राजनीति एक कर्तव्य है. एक पॉलीटिशियन जनता की सेवा करता है और जनता के प्रति कर्तव्य निभाता है. राजनीति एक जिम्मेदारी है. तो एक्टिंग और पॉलिटिक्स दोनों अलग हैं इनको हम जोड़ नहीं सकते. और मैं एक राजनेता के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभाना चाहता हूं लोगों के लिए सेवा करना चाहता हूं. 

सवाल- ओटीटी को लेकर आपकी क्या प्लान्स है ?
जवाब- हां OTT को लेकर मेरी प्लानिंग है पर मुझे कुछ ऐसा काम नहीं करना है जो मैं अपने परिवार के साथ बैठकर ना दे पाऊं. यह सोच मेरी पहले से ही है कि क्रिएटिविटी के नाम पर आप कुछ भी बना दो यह सही नहीं है. आप अपने प्रोजेक्ट में सिर्फ अश्लीलता इसलिए ना दिखाएं कि उसको लोग देखेंगे. सबकी अपनी अपनी सोच होती है और यह सिर्फ मेरी सोच है. मैं यह बिल्कुल भी नहीं कहूंगा कि जो ऐसा काम कर रहे हैं वह गलत है और मैं सही हूं ऐसा कुछ भी नहीं है. मैं ओटीटी पर काम करना चाहता हूं और एक प्रोजेक्ट लगभग फाइनल हो गया है, बस में ऐसा काम नहीं करना चाहता हूं कि जिसको करने के बाद मैं अपने माता-पिता के साथ ना देख पाउं.

सवाल- आप खुद एक पेट्रियोटिक फिल्म पलटन का हिस्सा रह चुके है. अब सोनाक्षी की फिल्म भुज - द प्राइड ऑफ इंडिया रिलीज हो रही है. कितने एक्साइटेड है.
जवाब-  मैं बहुत एक्साइटेड हुं और मेरा मानना है कि ये फिल्म अगर थिएटर में रिलीज होती तो शायद इस साल की सबसे बड़ी ब्लॉकबस्टर फिल्म होती और सोनाक्षी के जीवन की सबसे बड़ी हिट फिल्म. ट्रेलर देखकर मुझे ये फील हुआ की फिल्म में देशभक्ति की भावना को महसूस कर सकते है. 

Read More
Tags
Loading...

Recommended