20 Years Of Lagaan: अगर 'मैंने गदर' देखी होती तो शायद डर जाता और कहता कि हम इससे नहीं भिड़ेंगे - आमिर खान

By  
on  

साल 2001 में आमिर खान की 'लगान' रिलीज हुयी थी. आशुतोष गोवारिकर के निर्देशन में बनीं फिल्म हिट फिल्म थी लेकिन यह सनी देओल की 'ग़दर' जितना बिजनेस नहीं कर पायी थी. अब चूंकि आज दोनों ही फिल्मों से 20 साल पूरे कर लिए है. आमिर ने बॉक्स ऑफिस क्लैश के बारे में बात की. 

अनिल शर्मा की 'ग़दर' के साथ बड़े बॉक्स ऑफिस क्लैश के बारे में बात करते हुए आमिर ने कहा, 'सच तो यह है कि जब पहले फिल्म रिलीज होने वाली थी और मुझे पता चला कि 'गदर' लगान के साथ आ रही है, जाहिर है, अनिल शर्मा एक सफल निर्देशक हैं और सनी देओल बहुत बड़े स्टार हैं, एक को फ़िक्र होती है. हालांकि, मेरा हमेशा से मानना था कि जब दो फिल्में अच्छी होती हैं और वे एक ही दिन रिलीज होती हैं, तो वो दोनों ही अच्छा करती हैं. 'दिल' और 'घायल' भी एक ही दिन रिलीज हुयी थी. दरअसल, सनी और मैं संयोग से कई बार एक साथ आए हैं और सौभाग्य से, हमारी दोनों ही फिल्मों ने अच्छा प्रदर्शन किया है. मैं एक बार गदर के निर्माता से मिला था और उन्होंने मुझे कहानी की रूपरेखा बताई थी और मुझे यह बहुत पसंद आई थी इसलिए मैंने आशुतोष (गोवरिकर) से कहा कि फिल्म की कहानी बहुत मजबूत है और फिल्म में इसका भावनात्मक भाग इतना अच्छा है कि यह गलत नहीं हो सकती.'

आमिर ने आगे कहा, 'बाप रे, फिल्म देखने के लिए लोग ट्रैक्टर भरते थे. गदर देखने के लिए लोग गांवों से ट्रैक्टर और बसों में सफर करते थे. 'गदर' 'लगान' से कम से कम 3 गुना बड़ी थी नहीं तो 4 गुना बड़ी थी. मैं आज सोचता हूं कि हम कैसे बच गए. गदर एक सुनामी थी, आज हमें इसका एहसास नहीं है लेकिन जिस तरह का बिजनेस गदर कर रहा था, अगर 'लगान' उससे 1% कम कर रहा होता, तो हम बच नहीं पाते. लगान से भी बड़ी हिट थी गदर. दोनों फिल्में एक ही दिन रिलीज हुईं और गदर ने बहुत अच्छा कारोबार किया है, लगान ने भले ही ज्यादा कारोबार नहीं किया हो लेकिन इसे बहुत प्यार मिला. इसलिए, दोनों ने वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया है.'

Read More
Tags
Loading...

Recommended