एजाज खान ने पवित्रा पुनिया के साथ अपने रिलेशनशिप पर की बात, कहा- 'मैं उससे प्यार करता हूं, मेरा इरादा शुद्ध और पवित्र है'

By  
on  

बिग बॉस 14 के कंटेस्टेंट एजाज खान, जिन्होंने हाल ही में पहले के अपने प्रोफेशनल कमिटमेंट्स का हवाला देते हुए घर छोड़ा है, ने सुझाव दिया है कि वह शो के लिए वापस आ सकते हैं. ऐसे में एक्टर ने फैंस के सपोर्ट के बारे में बात करने से लेकर, अपनी को-कंटेस्टेंट रही पावित्रा पुनिया के साथ अपने समीकरण के बारे में भी बात की है और कहा है कि जिन्होंने उनकी फीलिंग्स को फेक कहा है वह खुद ही फेक हैं.

इंटरव्यू के दौरान पवित्रा के बारे में बात करते हुए एजाज ने कहा है, "बीबी हाउस से बेहतर किसी की असलियत समझने के लिए कोई और सही जगह नहीं है.पवित्रा की एक सख्त लड़की होने का पूरे दिखावे का भंडाफोड़ हो गया; असल में वह काफी नरम दिल की है. वास्तव में, वह सबसे अधिक केयर करने वाला व्यक्ति है जिसे मैं जानता हूं.वह मेरे लिए खाना बना रही है. घर से निकलने के बाद मेरी चौथी कॉल उसके लिए थी. मेरे पिता को छोड़ने के बाद, मैंने सबसे ज्यादा समय उसके साथ बिताया है, इसलिए मेरा निकलना अनकही बातो को समझने के लिए है. बहुत सारी बातों पर ध्यान देने की जरूरत है, न सिर्फ उसके अतीत के बारे में, बल्कि हम एक-दूसरे के बारे में भी क्या सोचते हैं. हम बच्चे नहीं हैं, हम डेटिंग गेम में नहीं हैं, और हमारे हार्ट ब्रेक्स हुए हैं. मुझे इसे इस तरह से रखने दो, जो लोग सोचते हैं कि पवित्रा के साथ मेरा समीकरण नकली है, तो वे खुद नकली हैं."

(यह भी पढ़ें: बिग बॉस के घर से बाहर निकलने के बाद मुंबई में स्पॉट हुए एजाज खान, शूटिंग के लिए हो रहे थे रवाना )

एक्टर ने आगे कहा है, "हमारी भलाई को ध्यान में रखते हुए हर निर्णय लिया जाएगा. यह केवल आपसी समझ विकसित करने से संभव है, जो एक साथ समय बिताने के साथ आता है. सच कहूं तो, जब मैं घर के अंदर था, तो मैं डर गया था, क्योंकि कोई भी दूसरे व्यक्ति को समझे बिना उसपर हवे में महल करना शुरू कर देता है.  इसलिए, असल दुनिया में 'बीबी' खेलना बेहतर है ... एक-दूसरे को समझना या एक-दूसरे के साथ लड़ना."

उन्होंने यह भी खुलासा किया कि वह पवित्रा के भाई से मिले, वह कहते हैं, "जब मैं पावी से मिला, तो मैं उसके भाई से भी मिला. वह अच्छा है. मैंने अपने भाई से भी उसकी मुलाकात कराइ. हम हर दिन को वैसा लेते हैं, जैसा वह आता है. मैं उससे प्यार करता हूं. मेरा इरादा ईमानदार, शुद्ध और पवित्र है. हम देखेंगे कि यह कहां जाता है, हमें इसे परिभाषित या लेबल नहीं करना चाहिए."

(Source: TOI)

Read More
Tags
Loading...

Recommended